नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Life is Just a Life: एक बार तो जी जाने दे Ek Bar To Jee Jane De

Written By Neeraj Dwivedi on शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2013 | 12:59 pm

Life is Just a Life: एक बार तो जी जाने दे Ek Bar To Jee Jane De: तेरी उदास आँखें चश्में का सहारा ले छिपा लेतीं हैं दर्द तेरा आँखों का किनारा ले। टूट जा अब बिखर जा अब पा ले खुद को, सुधर जा अब...

Life is Just a Life: ये ताजी जलन नहीं है Ye Taji Jalan Nahi hai

Written By Neeraj Dwivedi on मंगलवार, 19 फ़रवरी 2013 | 9:46 am

Life is Just a Life: ये ताजी जलन नहीं है Ye Taji Jalan Nahi hai: मैं  गुमसुम था  शब्दों में  आँसू में  अंगारों में , छेड़ दिया तो टूट गए कुछ भूखे स्वप्न कतारों में, भूखे पेटों की नज़रों से  जब जब नज...

Life is Just a Life: चटका मगर मटका कोई नहीं Chatka magar Matka koi nahi...

Written By Neeraj Dwivedi on बुधवार, 13 फ़रवरी 2013 | 8:53 pm

Life is Just a Life: चटका मगर मटका कोई नहीं Chatka magar Matka koi nahi...: बेहद सलीके से चटका मगर मटका कोई नहीं , अब तक मौत की  नजर से भटका कोई नहीं। दिख तो जाते रोज हैं  कुछ एक  हसीन चेहरे , तेरे बाद आज ...

Life is Just a Life: खुद को पाना जरूर Khud ko pana jarur

Written By Neeraj Dwivedi on शनिवार, 9 फ़रवरी 2013 | 8:29 pm

Life is Just a Life: खुद को पाना जरूर Khud ko pana jarur: रूठती जा रही  है डगर  साथ चल , बीतती जा  रही है उमर साथ चल , ख्वाव जो भी बुने वो एक एक कर , टूटते जा रहें  तू मगर  साथ चल। उन्हो...

Life is Just a Life: दिमाग की बैंड बजाओ मत Dimag Ki Band Bajao Mat

Written By Neeraj Dwivedi on गुरुवार, 7 फ़रवरी 2013 | 10:04 pm

Life is Just a Life: दिमाग की बैंड बजाओ मत Dimag Ki Band Bajao Mat: तुम बरस  जाओ चिल्ल्लाओ मत , मेरे सर पर राग भैरवी गाओ मत , मत चीखो सब बहरे हैं , बेशर्म हवा के पहरे हैं , मर जाने दो भूखों को , ...

facts and opinion.....: With reference to the passage...

Written By mark rai on बुधवार, 6 फ़रवरी 2013 | 1:33 pm

facts and opinion.....: With reference to the passage...: The need for Competition Law becomes more evident when foreign direct investment (FDI) is liberalised. The impact of FDI is not always pro...

facts and opinion.....: With reference to the passage...

facts and opinion.....: With reference to the passage...: The need for Competition Law becomes more evident when foreign direct investment (FDI) is liberalised. The impact of FDI is not always pro...

हास्य-व्यंग्य दोहे

Written By Ambarish Srivastava on मंगलवार, 5 फ़रवरी 2013 | 11:04 am

चिमटा बेलन प्रेम का, खुलकर करें बखान.
जोश भरें हर एक में, ले भरपूर उड़ान..

जगनिंदक घर राखिये, ए सी रूम बनाय.
चाहे सिर पर ही चढ़े, वहीं बीट करि जाय..

चमचों से डरते रहें, कभी करें नहिं बैर.
चमचे पीछे यदि पड़े, नहीं आपकी खैर..

नैनों से सुख ले रहे, नाप रहे भूगोल.
सारे भाई बंधु हैं, नहीं इन्हें कुछ बोल..

गलती कर नहिं मानिए, बने खूब पहचान.
अड़े रहें हल्ला करें, सही स्वयं को मान..

अहंकार दिखता बड़ा, 'मैं' छाया बिन प्राण.
'मैं' 'मैं' 'मैं' ही कीजिये, होगा अति कल्याण..

जब तक सीखें गुरु कहें, नहीं करें कुछ पाप.
गुरु हो बैठे आप जब, बनें गुरू के बाप..

गलत सही साबित करें, अगर चले नहिं जोर.
गुटबंदी तब कीजिये, और मचा दें शोर..

कूटतंत्र की राह पर, छूटतंत्र का राज.
लोकतंत्र है सामने रामराज्य है आज..

हास्य व्यंग्य सम-सामयिक. करते दोहे आज.
इनका उल्टा ही भला, सुखमय बने समाज..

--इं० अम्बरीष श्रीवास्तव 'अम्बर'

Founder

Founder
Saleem Khan