नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » मतवाले पथिक की तलाश !

मतवाले पथिक की तलाश !

Written By नीलांश on शनिवार, 14 मई 2011 | 2:56 am





कुछ पत्तियां उसकी सुख गयी
कुछ बादल आकर चले गए

इंतज़ार में बारिश के
ओस की बूंदे संबल बने

न जाने उसका क्या विश्वास है
किस संजीवनी की उसको आस है

पुष्प दिए फल भी बाँटें
फिर न जाने क्यों उदास है

देखो उसके बीजों ने
कितने उपवन को हर्षाया है

उस पुराने नीम के शाख को
मधुर सम्मान दिलाया है

क्यों भटके है उसका मन
इतना बैभव जब उसके साथ है

जीवन कितने दिए न जाने
कितने अमृत से उसके पात हैं

अपने हरे भरे आँचल से
कितने पथिको को छाया दी

दो रोटी मिले गरीबों को
अपने तन की काया दी

अब आएगा वो काल दूत
हलाहल का पान कराएगा

नीम के पेड़ को चिर निद्रा में
वो मधुर नींद सुलाएगा

जाते जाते उस पथिक को
छाँव कृपा की वो दे देगी

मतवाले पथिक की तलाश को
सार्थक वो नीम करेगी ..

मतवाले पथिक की तलाश को
सार्थक वो नीम करेगी ...
Share this article :

2 टिप्पणियाँ:

ana ने कहा…

bahut sundarta se manovawo ko vyakta kiya hai aapne......bhavprawan rachana

NEELANSH ने कहा…

bahut aabhaar ana ji aapka..

good wishes

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.