नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » हमने तो पहले ही कहा था ........सच बोले तो तुम भी निकाले जाओगे ......

हमने तो पहले ही कहा था ........सच बोले तो तुम भी निकाले जाओगे ......

Written By Akhtar khan Akela on सोमवार, 24 अक्तूबर 2011 | 5:30 pm


हमने तो पहले ही कहा था ........सच बोले तो तुम भी निकाले जाओगे ...... जी हाँ जनाब में बात कर रहा हूँ उस पागल की जिसे भ्रस्टाचार के समर्थकों के साथ दलाली करने वाले स्वामी अग्निवेश ने भ्रष्टाचार के खिलाफ इस पागल को मिल रहे समर्थन से बोखला कर इन्हें पागल हाथी कहा था ..जी हाँ समझ गये शायद आप में अन्ना हजारे की बात कर रहा हूँ जिनके खिलाफ पहले दिन से भ्रष्टाचार के समर्थक लोग लामबंद हैं और अन्ना उनके समर्थकों की मांग किया जनता का हित क्या है उसे ताक में रख कर यह समूह अपराधिक षड्यंत्र रच कर अपनी पूरी ताकत अन्ना और उनकी टीम को भ्रष्ट और बेईमान साबित करने में लगा है ............... आप खुद ही समझिये अगर अन्ना और उनके समर्थक एक नम्बर के चोर और बेईमान भी है तो क्या इन हालातों में अगर वोह बेईमान और भ्रष्ट लोगों के खिलाफ अआवाज़ उठा रहे हैं तो उन्हें इसका हक नहीं है .जनाब मेने तो पहले ही कहा था के अन्ना जी वापस खामोश हो जाओ देश जेसे चल रहा है चलने दो यहाँ लोगों को भ्रष्टाचार करने और सहने की आदत हो गये है इस युग में अगर आप भ्रष्टाचार के खिलाफ बोलोगे तो आपके खिलाफ सारे सफ़ेद पोश लोग एक जुट होकर आपके खिलाफ अभियान छेड़ देंगे और हुआ भी यही हो भी यही रहा है अन्ना के टीम के लोगों को एक एक कर खरीदा जा रहा है जो बिक नहीं रहे हैं उन्हें आरोप लगा कर डराया जा रहा है मारा जा रहा है पीटा जा रहा है और मिडिया मेनेजमेंट कर उन खबरों को उछाला जा रहा है जिनमे कोई दम है ही नहीं ..में जनता हूँ अन्ना इस आन्द्लोलन को दबाने की इस तरह की कोशिशों से आह्त हैं उनसे मेने कहा था ...................यह झुन्ठों और मक्कारों की महफ़िल है सच बोले तो तुम भी निकाले जाओगे ..लेकिन अन्ना तो अन्ना ठहरे माने ही नहीं भ्रष्टाचार की मिसाल कायम करने वाले लोगों के समर्थक और भविष्य में भी वोह और उनके समर्थक भ्रष्टाचार करते रहे कर सकें इसके लियें कोई कानून ना बने और अगर कानून बने तो केवल फोर्मलिटी वाला दिखावा कानून बन कर रह जाए के अभियान की वकालत करने वाले लोग हर जगह हर मोके पर करारी मात कहा रहे है लेकिन वोह इस देश के खातिर भ्रष्टाचार के खिलाफ कोई पुख्ता कानून बनाना नहीं चाहते हैं अगर यह लोग जितनी ताकत अन्ना और उनके समर्थकों को डराने धमकाने और बदनाम करने में लगा रहे हैं उससे आधी ताकत भी अगर यह लोग अन्ना के विचारों को कानून बनाने के प्रयासों में लगते तो आज देश भ्रष्टाचार मुक्त भारत का सपना लेकर गर्व से विश्व में सर उठा कर खड़ा होता लेकिन चोर और बेईमानों से उन्हीं के खिलाफ अगर कानून बनाने की मांग करने लगे तो फिर तो जनाब हमे पागल और महा पागल और पागल हाथी ही कहा जायेगा इसमें सरकार और स्वामी अग्निवेश की बातों का बुरा क्या मानना देश और मीडिया और निष्पक्ष लोग अगर आज भी नहीं जगे तो समझो देश हमेशा के लियें सो जाएगा और दुश्मन इसे रोंदते चले जायेंगे तो उठो जागो जनाब मुकाबला करो और भ्रष्टाचार मुक्त भारत के सपने को साकार करो जो लोग केवल बातों से भ्रष्टाचार मिटाना चाहते हैं जो लोग केवल जनता को लुभावनी बातें कर धोखा देना चाहते हैं जो लोग चालीस साल से भ्रष्टाचार के खिलाफ कानून बनाने के प्रयास की बात कर आज तक भी कानून नहीं बना सके हैं उनके साथ देश और देश के भक्तजनों को क्या सुलूक करना चाहिए मुझे कहने की जरूरत नहीं है जनाब जय हिंद जय भारत ....अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान
Share this article :

1 टिप्पणियाँ:

रविकर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति |

शुभ-दीपावली ||

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.