नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » सुनो अन्ना: जूता पेल पालबिल की महिमा

सुनो अन्ना: जूता पेल पालबिल की महिमा

Written By प्रदीप नील वसिष्ठ on मंगलवार, 18 अक्तूबर 2011 | 10:02 pm

सुनो अन्ना: जूता पेल पालबिल की महिमा: आदरणीय अन्ना अंकल, लोकपाल और जन लोकपाल के झगडे में हमारे मुहल्ले के आंखों के डा. राम औतार का “जूत्तापेल पाल बिल“ दब कर रह गया था. आज उनसे ह...
Share this article :

2 टिप्पणियाँ:

दिलबाग विर्क ने कहा…

आपकी पोस्ट आज के चर्चा मंच पर प्रस्तुत की गई है
कृपया पधारें
चर्चा मंच-673:चर्चाकार-दिलबाग विर्क

neel pardeep ने कहा…

प्रिय भाई
आभारी हूँ कि आपको रचना पसंद आई और आपने इसे चर्चा मंच पर प्रस्तुत किया
आशा है आपने मेरा ब्लॉग भी देखा होगा
धन्यवाद सहित
प्रदीप नील
www.neel-pardeep.blogspot.com

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.