नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » neta ji ki sadbhavna

neta ji ki sadbhavna

Written By shikha kaushik on शुक्रवार, 4 मार्च 2011 | 9:47 am


राजनीति में आकर हर खेल खेल जाते हैं ;
जीत न मिली तो भारी  हार झेल जाते हैं ,
जिनके खिलाफ बोलकर हम वोट मांगते हैं
वो सामने पड़ जाये तो ''सद्भाव '' दिखाते हैं .
                                                               
                                                 शिखा कौशिक
                                     http://netajikyakahtehain.blogspot.com/
Share this article :

3 टिप्पणियाँ:

Atul Shrivastava ने कहा…

राजनीति के यही तो दांव पेंच हैं।

शालिनी कौशिक ने कहा…

ye aur kuchchh kare ya n kare
par pagal to janta ka banate hain.
bahut achchha likh rahi hain aap.lagi rahiye.aabhar..

Dilbag Virk ने कहा…

sdbhav dikhana to achchha hi hai
vaicharik virodh alg bat hai aur shishta alg

inse to hm bloggers ko sikhna chahie jo matbhedon ko lekr niji virodh par utar aatenhain

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.