नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » प्यार

प्यार

Written By PRIYANKA RATHORE on मंगलवार, 22 मार्च 2011 | 10:02 pm






कुछ दिन से कृष्णा की पढाई बंद चल रही थी ! उदास दिखता था ! कारण -  कोई कह रहा था --"उसे प्यार हो गया है" ...... पी. एच. डी. पूरी नहीं कर पा रहा........सब कुछ अस्त - व्यस्त ! दोस्तों ने समझाया ......घर में बात कर.....प्यार को पाने की कोशिश कर , नहीं तो खुद को बर्बाद कर लेगा !


कुछ दिन बाद ----कृष्णा फिर नजर आया !ख़ुशी चेहरे पर नजर आ रही थी ! पता चला.......शादी हो गयी है......"उसी से "..........!! घर में माँ बापू के सामने अनशन पर बैठ गया था .....आखिरकार बेटे की जिद रंग लायी , कृष्णा को उसका प्यार मिल गया ! लगा - कृष्णा पी. एच. डी. पूरी कर पायेगा , जीवन बदल जायेगा !



आजकल कृष्णा  की पढाई फिर से बंद चल रही है ! उदास ही दिखता है ! कारण - गृहस्थी है , पत्नी है , जिम्मेदारी है , दुनियादारी भी है.........पर प्यार नहीं है !!!!!!!   वह तो बदलते वक्त के साथ ना जाने कहाँ उड़ गया !!


प्रियंका राठौर

Share this article :

7 टिप्पणियाँ:

वन्दना ने कहा…

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
कल (24-3-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

http://charchamanch.blogspot.com/

Dilbag Virk ने कहा…

ktu sach
backdoor entry - laghu katha

PRIYANKA RATHORE ने कहा…

vandna ji aapka bahut bahut dhanybad..
virk ji aabhar...

सलीम ख़ान ने कहा…

प्रियंका ! तुमने गागर में सागर जैसी पोस्ट लिखी है

यकीन मानो ज़ेहन-ओ-दिल में उतर गयी

सलीम

रश्मि प्रभा... ने कहा…

प्यार , अगर होता है , तो ख़त्म भी हो जाता है क्यूंकि जो होता है वो ख़त्म भी होता है .... हाँ अगर प्यार 'है' तो वो रहेगा ही हर परिस्थिति में

baabusha ने कहा…

A pinching truth of life !

PRIYANKA RATHORE ने कहा…

rashmi ji aap ne sahi kha...agar pyar hota hai her paristhiti mei hota hai..kisi ko dekha aur pyar ho gaya...veh pyar nahi sirf aakarshan hi hota hai....aabhar

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.