नियम व निति निर्देशिका::: AIBA के सदस्यगण से यह आशा की जाती है कि वह निम्नलिखित नियमों का अक्षरशः पालन करेंगे और यह अनुपालित न करने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से AIBA की सदस्यता से निलम्बित किया जा सकता है: *कोई भी सदस्य अपनी पोस्ट/लेख को केवल ड्राफ्ट में ही सेव करेगा/करेगी. *पोस्ट/लेख को किसी भी दशा में पब्लिश नहीं करेगा/करेगी. इन दो नियमों का पालन करना सभी सदस्यों के लिए अनिवार्य है. द्वारा:- ADMIN, AIBA

Home » » कप और प्याला

कप और प्याला

Written By Brahmachari Prahladanand on मंगलवार, 12 जुलाई 2011 | 10:42 am

कपट करने वाले कप में पिलाते हैं |
प्यार करने वाले प्याले में पिलाते हैं |
कप में पिलाने वाले बड़ा तकल्लुफ दिखाते हैं |
प्याले में पिलाने वाले बड़ा प्यार जताते हैं |

कप में पिलाने वाले पट के पीछे से देखते हैं |
प्याले में पिलाने वाले साथ बैठ कर पीते हैं |
कप में पीकर इंसान संजीदा हो जाता है |
प्याले में पीकर इंसान दिल्जीन्दा हो जाता है |

कप एक तकल्लुफ है, प्याला बेतकल्लुफ है |
किसी को, लुफ्त उठाते तकना ही तकल्लुफ है |
किसी को लुफ्त उठाते न तकना ही बेतकल्लुफ है |
तकल्लुफ और बेतकल्लुफ का ये फ़साना है |

कप वाले चीने बाद में पूछते हैं |
प्याला वाले प्यार की मिठास घोलते हैं |
कप वालों से कभी दोस्ती नहीं होती |
प्याले वालों से कभी दुश्मनी नहीं होती |

हम तो प्याले में पीते थे |
किसी और ने कप में पीना सिखाया |
वो तो यह सिखाकर चला गया |
प्यार की जगह कपट सिखा गया |

गर प्यार किसी से जाताना है |
तो फिर प्याले में ही पिलाना है |
कप में पिलाकर उससे कपट न करना है |
यहीं जिन्दगी का एक, नेक सबक सीखना है |

कप ( कपट लाने वाला )
प्याला ( प्यार लाने वाला )

                                   ------- बेतखल्लुस




.
Share this article :

2 टिप्पणियाँ:

prerna argal ने कहा…

cup aur pyaale ki byakhyaa bahut khoob likhi hai .badhaai aapko.

manu shrivastav ने कहा…

मुझे तो किसी ने आज तक प्लेट में नहीं पिलाया, सारे कप वाले ही मिले हैं . :P :P
----------------------
दहेज़ कु-प्रथा !

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable comment.